Connect with us

Hi, what are you looking for?

Poetry

Mere Bina Wo Kahin Jaati Nahin Hai – Hindi Poem

Pahad, Mountains
Captured by: Eean Chen

In pahadon par ab dhoop hai; chhaon tak aati nahi hai,
Ab hawaon se kya gila teri khusbu lekar aati nahi hai..

Itna akela rehta hoon; kamre mein roshani aati nahi hai,
Kitna bhi zor se pukaaru; tujh tak aawaz jaati nahi hai..

Wo kitna bhi naraz ho ab uski kasme khate nahin hain,
Zindagi shayad khatam ho gai; par maut bhi aati nahi hai..

Saath rehti hai jab bhi nazre churati nahi hai,
Gussa mai kitna bhi rahu; door mujhse jaati nahi hai..

Aksar der raaton ko usey nind nahi aati,
Kaise jiyegi akele; mere bina wo kahin jaati nahi hai…

phantom

Same poem in Hindi text:

इन पहाड़ों पर अब धूप है छाँव तक आती नहीं है,
अब हवाओं से क्या गिला तेरी खुशबू लेकर आती नहीं है..

इतना अकेला रहता हूँ कमरे में रौशनी आती नहीं है,
कितना भी जोर से पुकारू तुझ तक आवाज जाती नहीं हैं..

वो कितना भी नाराज हो उसकी कसमें खाते नहीं हैं,
ज़िन्दगी शायद ख़तम हो गई पर मौत भी आती नहीं है..

साथ रहती है जब भी नजरे चुराती नहीं है,
गुस्सा मैं कितना भी रहूं दूर मुझसे जाती नहीं है..

अक्सर देर रातों को उसे नींद नहीं आती,
कैसे जीतेगी अकेले, मेरे बिना वो कहीं जाती नहीं है..

फैंटम

I hope you enjoyed reading this small piece of my Hindi-urdu  poetry. Please do not hesitate to mention your views in comments. I will be more than happy to know your responses. If you like this poem, please share link of this page on your Facebook/Twitter profiles so that more and more people could see this poem. Have a good day! (:

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

My Diaries

शायद शिव हमारी याद के पहले बदनाम शायरों में है। उनकी शादी में उन्ही का लिखा गीत गाया गया और अब आप पूछिये की...

Hindi

भगवान विष्णु का भारतीय पौराणिक कथाओं और धर्मों में अभिन्न स्थान है। भगवान विष्णु अपने कई अवतारों के लिए जाने जाते हैं। माना जाता...

Experiences

काशी में अस्सी और अस्सी में पप्पू।  ☕ आज के अक्खड़ी मिजाज वाले शहर बनारस के साल 1918 में भी, जब काशी के ब्राह्मण...

Internet

So, there is a trending post which everyone is blindly posting on Facebook this weekend. i.e., “For my future memories feed.” In which, someone shared some details...

Not an ordinary footer message! Copyright © 2020 Social Halt via Anshumaan Vishnu.